शहीदों कि नगरी शाहजहाँपुर के मेडिकल कालेज से 34 छात्र छात्राओं ने भरे ऑनलाइन फॉर्म



छात्र छात्राओं के माता पिता को उनके ही जनपद में मिली ख़ुशी


शाहजहाँपुर:- उत्तर प्रदेश के जनपद शाहजहाँपुर के मेडिकल कॉलेज में प्रोफेसर अभय सिन्हा और प्रोफेसर पूजा त्रिपाठी ने छात्रों को बताते हुए कहा कि जैसा कि आप सभी जानते है|कि सबसे पहले छात्र को यह तय करना होगा कि उसका लक्ष्य क्या है। चुने हुए कॉलेज में कौन से कोर्स चल रहे हैं। क्या उनके माध्यम से लक्ष्य को हासिल किया भी जा सकता है, अथवा नहीं या कॉलेज में स्टडी मटेरियल, हॉस्टल, सुरक्षा, खानपान, ट्रांसपोर्टेशन और रिसर्च वगैरह की सुविधाएँ हैं कि नहीं हैं? तो किस प्रकार की हैं।यह भी देखना ज़रूरी है। कि कॉलेज किस क्षेत्र में है। कुल मिलाकर कॉलेज में स्टूडेंट के लिए सुरक्षा, समानता और आरामदेह माहौल होना ज़रूरी है। इन सब बातों पर खरा उतरता है। कि नहीं यह सभी शुविधाओं से लेस शाहजहांपुर मेडिकल कालेज है। जहाँ स्टेट कॉउंसलिंग के पहले दिन ही यहां से 24 छात्रों ने अपने फॉर्म भरकर भरोसा जताया है।


सबसे बड़ी और खास बात यह यह है|कि छात्र और छात्राओं के साथ साथ उनके अविभावकों को इस बात की ख़ुशी है| कि उनके बच्चों को उनके ग्रह क्षेत्र नगर की शहीदों की नगरी शाहजहांपुर में अध्ययन करनें का गौरव प्राप्त होने वाला है।


इसी क्रम में ऑनलाइन एडमिशन की प्रक्रिया शाम 7 बजे तक चली और 34 छात्रों के एडमिशन पर मेडिकल कालेज के प्राचार्य डॉ अभय अभय कुमार काफी उत्साहित नजर आए और उन्होंने सभी मेडिकल स्टाफ का आभार व्यक्त किया है।


रिपोर्टर:- उदित शर्मा