सांसद ने पैसेंजर ट्रेन फफूंद से आगरा चलाने की मांग रखी


 


इटावा:- एससी-एसटी आयोग के अध्यक्ष सांसद डॉ. रामशंकर कठेरिया ने यात्री सुविधाओं को लेकर पैसेंजर ट्रेन के रूट में बदलाव की मांग लोकसभा में रखी। इटावा में रात्रि विश्रम करने वाली इटावा -आगरा पैसेंजर ट्रेन को फफूंद से प्रात:काल आगरा के लिए चलाए जाने व फफूंद रेलवे स्टेशन पर रात्रि में ठहरने वाली फफूंद-कानपुर पैसंेजर ट्रेन को इटावा में रात्रि विश्रम करवाकर उसे कानपुर के लिए चलाए जाने मांग को उठाया। इन पैंसेंजर ट्रेन के रूट विस्तार से उनके क्षेत्र के व्यापारियों, छात्रों के साथ-साथ आधा दर्जन स्टेशनों से ट्रेन से यात्र करने वालों को लाभ मिलेगा।


इन पैंसेजर ट्रेन के चलने से भरथना, बिधूना, ऊसराहार, ताखा, एरवाकटरा, अछल्दा, निवाड़ी कलां, लुधियानी, लखना, बकेवर, महेवा, साम्हो, इकदिल, पाता, घसारा, दिबियापुर आदि गावों से सैकड़ों की संख्या में चलने वाले यात्रियों को लाभ मिलेगा। इनको दूरस्थ स्थानों से चलने वाली बसों के लिए नहीं भटकना पड़ेगा। इन स्थानों से चलने वाले लोगों को व्यापार करने वाले व्यापारियों के साथ-साथ छात्रों को भी लाभ मिलेगा। भाजपा नेता श्रीभगवान पोरवाल एवं कमलेश यादव गुरु का कहना है कि इटावा और फफूंद में ट्रेनों के ठहराव के लिए रेलवे ट्रैक की कोई समस्या नहीं होगी और उक्त स्थानों से चलने वाली इटावा क्षेत्र की जनता को दो पैसेंजर ट्रेन यात्र करने के लिए मिल जाएंगी।


बताते चलें कि अन्ना हजारे के समर्थक रहे समाजसेवी भाजपा के वरिष्ठ नेता कमलेश यादव गुरु ने भरथना रेलवे स्टेशन पर कई ट्रेनों के ठहराव की मांग को लेकर 26 जनवरी 2014 से मई 2014 तक लगातार धरना दिया था। जिसके चलते उस समय आगरा के सांसद डॉ. रामशंकर कठेरिया ने आगरा-लखनऊ इंटरसिटी एक्सप्रेस का ठहराव कराया था।


रिपोर्टर:- सुबोध पाठक