गोमती को पुनर्जीवन प्रदान करने की मुहिम शुरू,विधायक और डीएम ने श्रमदान कर किया शुभारम्भ


 


लखीमपुर:- खीरी 30 जून 2019। रविवार को तहसील एवं विकास खण्ड मोहम्मदी की ग्राम पंचायत मझगवा के बेलापहाड़ा गांव से गोमती नदी के पुररूद्धार की शुरूआत विधायक मोहम्मदी एवं जिलाध्यक्ष लोकेन्द्र प्रताप सिंह, जिलाधिकारी शैलेन्द्र कुमार सिंह, मुख्य विकास अधिकारी रवि रंजन ने श्रमदान एवं वृक्षारोपण कर की। इस कार्य में आसपास गांवों के लगभग 300 स्वयंसेवियों ने भी साफ-सफाई कर अपना सहयोग प्रदान किया।


विधायक लोकेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि यह एक सामाजिक कार्यक्रम है गोमती जनपद के लिए जीवनदायिनी नदी है। अतः हम सबको इसके पुनरूद्धार के लिए हर सम्भव सहयोग प्रदान करना चाहिए। उन्होनें कहा कि इस नदी का पुर्नजीवन सरकार की सर्वोच्य प्राथमिकताओं में एक है और जिन पन्द्रह नदियों को पुर्नजीवन देने के लिए चुना गया है। उनमें गोमती भी एक है। गोमती नदी के पुनरूद्धार का सबसे अच्छा तरीका उसमें जल का सदाबहार प्रवाह बनाये रखना है और इसके लिए शारदा नदी से जोड़ा जाना आवश्यक है। इसके लिए वह मुख्यमंत्री से भी अनुरोध करेगे।


जिलाधिकारी शैलेन्द्र कुमार सिंह ने अपने सम्बोधन में कहा कि जनपद मेें बहने वाली इस बड़ी नदी के पुनरूद्धार के लिए सभी सम्बन्धित विभागों तथा नदी के दोनो किनारो पर बसे गांवों के लोगो का जनसहयोग प्राप्त किया जायेगा। वन विभाग, मनरेगा एवं सिंचाई विभाग के माध्यम से नदी के दोनो किनारों पर उपलब्ध ग्राम समाज एवं वन भूमि पर वृक्षारोपण किया जायेगा और नदी के साफ-सफाई कराई जायेगी। इसके अतिरिक्त गांवों से नदी मेें आने वाले प्रदूषित पदार्थो की रोकथाम के उपाय किये जायेगे तथा जल संचयन के लिए इन गांवों में मनरेगा कार्यक्रम के अन्र्तगत तालाबों की खुदाई भी की जायेगी।


मुख्य विकास अधिकारी रवि रंजन ने अपने सम्बोधन में कहा कि जनपद में गोमती नदी लगभग 84.5 किमी बहती है। यह जनपद की तीन तहसीलों गोला गोकर्णनाथ, मोहम्मदी और मितौली से होकर बहती है। नदियां हमारे जीवन में कितना महत्वपूर्ण स्थान रखती है। यह इतिहास से हम जान सकते है। यह केवल नदी न होकर हमारे आर्थिक, सांस्कृतिक एवं धार्मिक जीवन का आधार होती है। अतः यह हमारी नैतिक जिम्मेदारी भी है कि हम इन्हें साफ सुथरा एवं सदावाहिनी रखे।


इस मौके पर प्रभागीय वनाधिकारी (दक्षिणी) आईएफएस समीर कुमार, उपायुक्त श्रम रोजगार राजनाथ भगत, उपजिलाधिकारी मोहम्मदी स्वाति शुक्ला, सिंचाई अभियंता सिंचाई खण्ड प्रथम ओपी वर्मा, नायब तहसीलदार ज्ञानप्रताप, एवं बड़ी संख्या में ग्रामवासी भी उपस्थित रहे।


रिपोर्टर:- अभिषेक कुमार